Archives for General Knowledge - Page 43

History gk in Hindi – 9

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

History gk in Hindi

इतिहास के पन्नों से (History General Knowledge in Hindi)

सात वर्ष के बालक कृष्णराज बडयार को मैसूर का नया राजा बनाया गया। वह पूरी तरह से अंग्रजों पर आश्रित था।

इस प्रकार मैसूर (कर्नाटक), तंजाबुर और सूरत पर भी अंग्रजों का कब्जा हो गया।

लॉर्ड वेलेजली ने अब मराठों की ओर कदम उठाना शुरू किया।

मराठों के आपसी झगड़े जोरों पर थे, किन्तु महादजी सिंधिया और नाना फड़नवीस जैसे योग्य नेताओं के कारण, आपसी झगड़ों के बावजूद भी, मराठों की शक्ति टिकी हुई थी।

सन् 1801-02 में, पेशवा पर आधिपत्य स्थापित करने के उद्देश्य से, होल्कर और सिंधिया के बीच लड़ाई हुई।

उस स्थिति में पेशवा बाजीराव द्वितीय ने 1803 में अंग्रेजों के साथ संधि कर सहायक संधि स्वीकार कर लिया जिसके फलस्वरूप पेशवाओं की राजधानी पुणे पर अंग्रेजों की फौज का अधिकार हो गया और उन्होंने होल्कर को वहाँ से भगा दिया।

स्थिति को देखते हुए सिंधिया और भोंसले एकजुट हो गये किन्तु तब तक काफी देर हो चुकी थी।

क्योंकि उत्तर और दक्षिण दोनों ही में मराठों की सेनाएँ हार चुकी थीं, अंग्रजों ने दिल्ली, जिस पर सिंधिया का नियन्त्रण था, छीन लिया था और अंधा बादशाह शाह आलम अंग्रेजों के संरक्षण में आ चुका था।

अन्ततः भोंसले और सिंधिया को अंग्रेजों के साथ संधि करने और अपने कई ड़लाके अंग्रेजों को देने के लिए विवश होना पड़ गया।

उन्हें सहायक संधि की शर्तों को भी स्वीकार करना पड़ा।

इस प्रकार ब्रिटिश फौजें मराठा राज्यों तक भी पहुँच गईं और उन राज्यों में रेजिडेंट नियुक्त किये गये।

उन रेजिडेंटों का काम था मराठों के विभिन्न गुटों के बीच चलने वाले झगड़ों को उभारते रहना।

इस प्रकार अंग्रेजों ने मराठा राज्यों पर प्रभाव जमाना शुरू कर दिया पर होल्कर अभी भी डटे रहे।

चूँकि लन्दन में कम्पनी के मालिक भारत में होने वाली लड़ाइयों के भारी खर्च से परेशान हो रहे थे, वेलेजली को वापस बुला लिया गया।

वेलेजली के जाने के बाद अंग्रेजों ने होल्कर के साथ शान्ति समझौता कर लिया।

इस प्रकार अंग्रेजों का और अधिक विस्तार लगभग रुक गया और वे अपनी स्थिति सुदृढ़ करने में जुट गये। मगर जल्दी ही उनके विस्तार का नया दौर शुरू हो गया।

1809 से 1848 तक अंग्रेजों के राज्य विस्तार से सम्बन्धित प्रमुख घटनाएँ
मिन्टो भारत का गवर्नर जनरल बनकर आया।

मिन्टो के बाद मार्क्विस हेस्टिंग्ज गवर्नर जनरल बना।

सन् 1817 में अंग्रेजों और पिण्डारियों के बीच हुए युद्ध को तीसरा अंग्रेज-मराठा युद्ध का नाम दिया गया।

सन् 1824 से 1826 तक अंग्रेज बर्मी साम्राज्य के विरुद्ध युद्ध में लगे रहे क्योंकि बर्मी असम में अपना प्रभाव बढ़ाने का प्रयास कर रहे थे।

बर्मियों को हराकर अंग्रेजों ने असम को अपने नियन्त्रण पर ले लिया और बर्मियों को अंग्रेजों के व्यापार के लिए अपना दरवाजा खोलना पड़ा।

सन् 1843 में अंग्रेजों ने सिंध को ब्रिटिश शासन में मिला लिया।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

General Knowledge Questions Answers in Hindi 21

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

General Knowledge Qestions Answers in Hindi

Science gk Questions Answers

सामान्य ज्ञान प्रश्न तथा उत्तर (General Knowledge Questions Answers) एक अच्छा तरीका है सामान्य ज्ञान बढ़ाने का। बहुत से लोग क्विज (Quiz) की अपेक्षा सामान्य ज्ञान प्रश्न तथा उत्तर (General Knowledge Questions Answers) को अधिक पसन्द करते हैं।

सामान्य ज्ञान से सम्बन्धित प्रश्न तथा उत्तर (gk Questions Answers in Hindi)

असहयोग आंदोलन कब प्रारम्भ हुआ?

1920 में

ट्रेड यूनियन आंदोलन के जनक कौन थे?

एन. एम. जोशी

संविधान के किस धारा के अंतर्गत् वित्त आयोग की स्थापना हुई?

धारा 280

तक्षशिला किन दो नदियों के मध्य स्थित था?

सिंधु और झेलम

भारत के दक्षिण-पूर्व में कौन सा सागर स्थित है?

बंगाल की खाड़ी

टेबल टेनिस के मेज की लम्बाई, चौड़ाई तथा ऊँचाई कितनी होती है?

क्रमशः 275 से.मी., 152.5 से.मी., 76 से.मी.

रेशम के प्रमुख उत्पादक देश कौन से हैं?

चीन, संयुक्त राज्य अमेरिका, फ्रांस

अंग्रेजी के किन दो अक्षरों का सबसे अधिक तथा सबसे कम प्रयोग होता है?

‘E’ का प्रयोग सबसे अधिक होता है और ‘Q’ का सबसे कम

प्रथम आधुनिक राजनीतिक विचारक कौन हैं?

टॉमस हॉब्स

आधुनिक मानव के हाल का पूर्वज कौन है?

क्रोमैगनन मनुष्य

कादंबरी के रचयिता कौन हैं?

बाणभट्ट

नेताजी सुभाषचन्द्र बोस खेल संस्थान कहाँ स्थित है?

पटियाला में

पारिस्थितिकीय तंत्र के दो संघटक कौन-कौन से हैं?

अजीव तथा जीव

किस काल में मंदिर बनाने की कला का जन्म हुआ?

गुप्त काल में

महासागरीय जल में कौन सा लवण सर्वाधिक मात्रा में पाया जाता है?

सोडियम क्लोराइड

ऐशेस कप का सम्बन्ध किस खेल से है?

क्रिकेट से

प्रकाश की गति से पृथ्वी से चन्द्रमा तक जाने में कितना समय लगेगा?

1.3 सेकंड

किस वर्तमान नदी को प्राचीनकाल में अस्किनी के नाम से जाना जाता था?

चिनाब

किस स्थान में गौतम बुद्ध ने अपने सबसे अधिक उपदेश दिए?

श्रावस्ती में

किस विदेशी विद्वान का कथन है कि ‘हिन्दू लोग विदेशियों से बहुत घृणा करते हैं, वे समझते हैं कि हमारा देश सबसे अच्छा है, हमारा धर्म, हमारी सभ्यता, हमारा विज्ञान, हमारे रीति-रिवाज सबसे अच्छे हैं’?

अल बरूनी का

तात्यां टोपे का वास्तविक नाम क्या था?

रामचंद्र पांडुरंग

बिहू किस राज्य का लोकनृत्य है?

असम का

आमीटर क्या है?

विद्युत धारा मापने का यंत्र

इण्डियन एसोसिएशन के संस्थापक कौन थे?

सुरेन्द्रनाथ बनर्जी

किम्बरले किस देश का नगर है और किसलिए प्रसिद्ध है?

किम्बरले दक्षिण अफ्रीका के कालाहारी रेगि्स्तान के पूर्व में स्थित है और विश्व में हीरे के सबसे बड़े बाजार के रूप में प्रसिद्ध है।

यदि आपको यह सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी (gk questions answers in Hindi) पसंद आई हो तो शेयर करना ना भूलें।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Important General Knowledge in Hindi – 7

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

gk in Hindi

आपके सामान्य ज्ञान (General Knowledge in Hindi) बढ़ाने के लिए Gyan Sagar gk में प्रस्तुत है महत्वपूर्ण कम्प्यूटर सामान्य ज्ञान (Computer gk in Hindi)!

  • कम्प्यूटर का हिन्दी नाम संगणक है।
  • चार्ल्स बेवेज को कम्प्यूटर का पितामह कहा जाता है।
  • जॉन न्यूमेन का कम्प्यूटर के विकास में सर्वाधिक योगदान रहा है।
  • आधुनिक कम्प्यूटर की खोज सबसे पहले 1946 में हुई।
  • 2 दिसम्बर को कम्प्यूटर साक्षरता दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  • कम्प्यूटर के क्षेत्र में महान क्रान्ति सन् 1960 से आई।
  • T*3A संसार का सबसे तेज कम्प्यूटर है।
  • ‘सिद्धार्थ’ भयूटर है, जिसका निर्माण इलेक्ट्रॉनिक कॉर्पोरेशन ऑफ इण्डिया ने किया था।
  • भारत में पहला कम्प्यूटर 16 अगस्त 1986 को बेंगलोर के प्रधान डाकघर में लगाया गया था।
  • अमेरिका विश्व का सर्वाधिक कम्प्यूटरों वाला देश है।
  • अमेरिका के बाद क्रमशः जापान, जर्मनी, ब्रिटेन तथा फ्रांस का स्थान आता है। भारत का स्थान 19वाँ है।
  • डीप डब्ल्यू कम्प्यूटर 32 कम्प्यूटरों के बराबर काम करने वाला सुपर कम्प्यूटर है जो कि एक सेकंड में शतरंज की 20 करोड़ चालें सोच सकता है।
  • इस सुपर कम्प्यूटर ने शतरंज के विश्व चैम्पियन गैरी कास्परोव को पराजित किया था।
  • एनीयक विश्व का प्रथम इलेक्ट्रॉनिक डिजिटल कम्प्यूटर है।
  • भारत में कम्प्यूटर नीति की घोषणा नवम्बर 1984 में की गई थी।
  • भारत का पहला कम्प्यूटरीकृत डाकघर नई दिल्ली है।
Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

India Border – gk in Hindi

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

सामान्य ज्ञान (General Knowledge in Hindi) के अन्तर्गत् प्रायः भारत की सीमा (India Border) से सम्बन्धित प्रश्न पूछे जाते हैं।

प्रस्तुत है इस विषय में जानकारी।

india-border

पड़ोसी देशों के साथ लगी भारत की भू-सीमा (India Border)

बांग्लादेश के साथ लगी भारत की भू-सीमा4096.7 कि.मी.
चीन के साथ लगी भारत की भू-सीमा3488.0 कि.मी.
पाकिस्तान के साथ लगी भारत की भू-सीमा3323.0 कि.मी.
नेपाल के साथ लगी भारत की भू-सीमा1751.0 कि.मी.
म्यांमार के साथ लगी भारत की भू-सीमा1643.0 कि.मी.
भूटान के साथ लगी भारत की भू-सीमा699.0 कि.मी.
अफगानिस्तान के साथ लगी भारत की भू-सीमा106.0 कि.मी.
पड़ोसी देशों के साथ लगी भारत की कुल भू-सीमा15106.7 कि.मी.

भारत की तटीय सीमा (India Border)

राज्यतटीय सीमा
गुजरात1214.7 कि.मी.
महाराष्ट्र652.6 कि.मी.
गोवा101.00 कि.मी.
कर्नाटक208.0 कि.मी.
केरल569.7 कि.मी.
तमिलनाडु906.9 कि.मी.
आन्ध्र प्रदेश973.7 कि.मी.
ओडिशा476.7 कि.मी.
पश्चिम बंगाल157.5 कि.मी.
लक्षदवीप42.5 कि.मी.
दमन एवं दीव132.0 कि.मी.
पुदुचेरी47.6 कि.मी.
अंडमान तथा निकोबार द्वीप समुदाय1962.2 कि.मी.
भारत की कुल तटीय सीमा7516.6 कि.मी.
Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Important General Knowledge in Hindi – 6

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

gk in Hindi

आपके सामान्य ज्ञान (General Knowledge in Hindi) बढ़ाने के लिए Gyan Sagar gk में प्रस्तुत है महत्वपूर्ण इतिहास सामान्य ज्ञान (History gk in Hindi)!

  • भारत में अर्थव्यवस्था विकासशील है।
  • भारत में योजना की अवधारणा सन् 1950 में स्वीकार की गई।
  • हमारे देश में आर्थिक नियोजन 1 अप्रैल 1951 को प्रारम्भ हुआ।
  • पंचवर्षीय योजना का अन्तिम अनुमोदन राष्ट्रीय विकास परिषद् के द्वारा की जाती है।
  • राष्ट्रीय विकास परिषद् का अध्यक्ष प्रधानमन्त्री होता है।
  • अर्थशास्त्र में ‘बाजार’ से अभिप्राय प्रतियोगिता की उपस्थिति से है।
  • प्रतिवर्ष शासकीय स्तर पर आर्थिक सर्वेक्षण का प्रकाशन भारत सरकार के वित्त मन्त्रालय द्वारा किया जाता है।
  • गांधीवादी अर्थव्यवस्था ग्रामीण सहकारिता पर आधारित थी।
  • उद्योगों के विकास तथा औद्योगीकरण की रणनीति द्वितीय पंचवर्षीय योजना का अंग थी।
  • भारत में स्वसम्पोषित विकास का उद्देश्य सर्वप्रथम चतुर्थ पंचवर्षीय योजना में अपनाया गया।
  • चतुर्थ पंचवर्षीय योजना का मुख्य उद्देश्य आर्थिक आत्मनिर्भरता थी।
  • भारत में सन् 1966 के अकाल के बाद योजना अवकाश काल था।
  • तीसरी पंचवर्षीय योजना में आर्थिक संवृद्धि अपने लक्ष्य से अधिक रही।
  • दूसरी पंचवर्षीय योजना का प्रारूप पी.सी. महालनोबिस ने तैयार किया था।
  • भारत में निर्धनता मापने के लिए कुल 32 निर्धनता रेखाएँ निश्चित करने का प्रावधान लकड़ावाला फार्मूले के अनुसार किया गया।
  • पंचवर्षीय योजना के इतिहास में भारत की सर्वाधिक असफल योजना तृतीय योजना को माना जाता है।
  • चौथी पंचवर्षीय योजना (1969-74) को गाडगिल योजना के नाम से भी जाना जाता है।
  • भारतीय नियोजन काल का 1980 का दशक कृषि उत्पादन की दृष्टि से सर्वाधिक सफल माना जाता है।

यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो शेयर करना ना भूलें।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Important General Knowledge in Hindi – 5

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

gk in Hindi

आपके सामान्य ज्ञान (General Knowledge in Hindi) बढ़ाने के लिए Gyan Sagar gk में प्रस्तुत है महत्वपूर्ण इतिहास सामान्य ज्ञान (History gk in Hindi)!

 

  • बैरकपुर छावनी में मंगल पाण्डे नामक सिपाही ने 29 मार्च 1857 के दिन परेड ग्राउण्ड में एनफील्ड रायफल के चर्बी लगे कारतूसों के प्रयोग के विरोध में अंग्रेज अफसरों पर गोली चलाई थी। यह अंग्रेजों के विरुद्ध भारतीय सिपाहियों का सर्वप्रथम विद्रोह का सूत्रपात था।
  • प्रथम पंचवर्षीय योजना (1951-1956) का आरम्भ सन् 1951 में हुआ था। इस योजना का मुख्य केन्द्र प्राथमिक क्षेत्र था तथा इसमें कृषि, मूल्य स्थिरता, विद्युत और परिवहन पर विशेष ध्यान रखा गया था।
  • ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System) सॉफ्टवेयर का समूह होता है जो आँकड़ों तथा निर्देश के संचरण को नियन्त्रित करता है। ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System) हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बीच सेतु का कार्य करता है।
  • पर्वतीय क्षेत्रों में सड़कों के अवरुद्ध हो जाने का प्राकृतिक कारण प्रायः भू-स्खलन (Land Slides) होता है। भारत में उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्मू व कश्मीर आदि हिमालय पेटी/श्रृंखला के अन्तर्गत आने वाले राज्यों में इसके उदाहरण देखने को मिलते हैं।
  • विश्व की सबसे लम्बी स्थल सुरंग (Longest Overland Tunnel) स्विटजरलैण्ड में स्थित है जिसकी लम्बाई 34.57 कि.मी. है।
  • भारत के पास विश्व की कुल भूमि का 2.4 प्रतिशत हिस्सा है।
  • जैव विविधता (Biodiversity) को (Global Diversity) के नाम से भी जाना जाता है।
  • भारत में प्रान्तीय संसदों के गठन के लिए सन् 1937 में पहली बार चुनाव कराए गये जिसमें कांग्रेस ने 11 में से 5 प्रान्तों में पूर्ण बहुमत प्राप्त किया तथा 7 प्रान्तों में अपनी सरकार बनाई।
  • इन्द्रावती राष्ट्रीय उद्यान छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्र में स्थित है। इसकी स्थापना सन् 1982 में की गई थी।
  • मध्य प्रदेश के पीतमपुर को उसके ऑटोमोबाइल के उद्योग के लिए जाना जाता है तथा इसे भारत का डेट्रायट भी कहा जाता है।
  • सन् 1905 में गोपाल कृष्ण गोखले ने ‘सर्वेन्ट्स ऑफ इण्डिया’ की स्थापना की थी।
  • भारत छोड़ो आन्दोलन के समय बम्बई प्रान्त के सतारा और बंगाल प्रान्त के मिदनापुर में अस्थायी सरकारों की स्थापना की गई थी।
  • भारतीय संविधान के ऐतिहासिक विकास का काल सन् 1600 से माना जाता है।
  • महावीर की शिक्षाओं में विश्वास, सम्यक् ज्ञान और सम्यक् कर्म नामक त्रिरत्न का उल्लेख है।
  • न्यूयार्क हडसन नदी के तट पर स्थित है।
  • पारिस्थिकीय निश पारिस्थितिकीय व्यवस्था में जीव की कार्यत्मक भूमिका का संकेत करता है।
  • भारत के गवर्नर जनरल को 1786 के अमेंडमेंट एक्ट के द्वारा अपनी समिति के निर्णय को अस्वीकार करने का अधिकार मिला।
  • तराइन के द्वितीय युद्ध में मोहम्मद गोरी ने पृथ्वीराज चौहान को पराजित किया था।
  • उष्णकटिबंधीय वर्षावन को ग्लोग के कार्बन सिंक के रूप में जाना जाता है।
  • आय असमानताओं में कमी या वृद्धि को गिनी गुणांक एवं लॉरेंज वक्र के माध्यम द्वारा आकलित किया जाता है।
  • रडार का प्रयोग रेडियो तरंगों से पदार्थों की उपस्थिति और स्थान निर्धारित करने के लिए किया जाता है।
  • वॉलीबा के प्रत्येक टीम में 6 खिलाड़ी होते हैं।
  • दुलहत्ती बाँध चिनाब नदी पर बनाया गया है।
  • ब्राजील विश्व का सबसे ज्यादा कोको उत्पादक देश है।
  • कॉपीराइट से सम्बन्धित प्रथम अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन बेरने में किया गया था।
  • ‘फ्लैक्स’ प्रजाति टिपरा (JFR-2) की फसल 4 माह में तैयार हो जाती है।

यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो शेयर करना ना भूलें।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Railway gk in Hindi – 5

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

रेलवे सामान्य ज्ञान (Railway General Knowledge in Hindi)

Railway gk in Hindi

Gyan Sagar gk में प्रस्तुत है प्रश्नोत्तरी (Railway General Knowledge Questions Answers in Hindi) के रूप में रेलवे के बारे में जानकारी।

आशा है कि आपको Gyan Sagar General Knowledge की यह प्रश्नोत्तरी पसन्द आयेगी।
भारत में कितनी पर्वतीय रेलवे, जिन्हें टॉय ट्रेन भी कहा जाता है, हैं?

पाँच – दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे, नीलगिरि पर्वतीय रेलवे, कांगड़ा घाटी रेलवे, कालका-शिमला रेलवे और नेराल-माथेरान रेलवे

भारतीय रेल के द्वारा पर्वतीय रेलवे चलाने का का क्या उद्देश्य है?

पर्यटन को बढ़ावा देना

दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे का गेज क्या है?

नैरो गेज

दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे कुल कितनी दूरी तय करती है?

86 कि.मी.

दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे में किस प्रकार के रेल इंजिन का प्रयोग होता है?

भाप इंजिन का

दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे कहाँ से शुरू होती है?

न्यू जलपाईगुड़ी से

दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे में सबसे ऊँचाई पर स्थित स्टेशन, जो कि भारत का सबसे ऊँचा रेलवे स्टेशन है, कौन सा है?

घूम (Ghum)

दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे यूनेस्को से विश्व की सांस्कृतिक धरोहर सूची में कब शामिल हुई?

1999 में

नीलगिरि पर्वतीय रेलवे किस प्रणाली पर चलती है?

रैक एवं पिनियन प्रणाली पर, जो कि एशिया की एकमात्र रैक एवं पिनियन प्रणाली है

नीलगिरि पर्वतीय रेलवे कब प्रारम्भ हुआ?

1899 में

नीलगिरि पर्वतीय रेलवे का गेज क्या है?

मीटर गेज

नीलगिरि पर्वतीय रेलवे कहाँ से कहाँ तक चलती है?

मेट्टूपालयम से उधगमण्डलम् (ऊटी) तक

नीलगिरि पर्वतीय रेलवे की लंबाई कितनी है?

46 कि.मी.

नीलगिरि पर्वतीय रेलवे यूनेस्को से विश्व की सांस्कृतिक धरोहर सूची में कब शामिल हुई?

2005 में

कालका-शिमला पर्वतीय रेलवे का गेज क्या है?

नैरो गेज

कालका-शिमला पर्वतीय रेलवे की लंबाई क्या है?

96 कि.मी.

कालका-शिमला पर्वतीय रेलवे की शुरुवात कब हुई?

1903 में

ब्रिटिश राज के समय कालका-शिमला पर्वतीय रेलवे को क्या कहा जाता था?

क्राउन ज्वेल

कालका-शिमला पर्वतीय रेलवे हिमालय की किन पहाड़ियों से होकर चलती है?

शिवालिक पहाड़ियों से

कांगड़ा घाटी पर्वतीय रेलवे कब शुरू हुई थी?

1926 में

कांगड़ा घाटी पर्वतीय रेलवे कहाँ से कहाँ तक चलती है?

पठानकोट से जोगिन्दर नगर तक

कांगड़ा घाटी पर्वतीय रेलवे यूनेस्को के विश्व विरासत सूची में कब शामिल हुई?

2009 में

नेराल-माथेरन पर्वतीय रेलवे कब से चल रही है?

1904 से

नेराल-माथेरन पर्वतीय रेलवे का गेज क्या है?

नैरो गेज

नेराल-माथेरन पर्वतीय रेलवे कितनी दूरी तय करती है?

21 कि.मी.

नेराल-माथेरन पर्वतीय रेलवे यूनेस्को के विश्व विरासत सूची में कब शामिल हुई?

2005 में

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Development of Rocket – gk in Hindi

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Gyan Sagar gk में पेश है Development of Rocket से सम्न्धित जानकारी!

रॉकेट का विकास (gk in Hindi)

Development of Rocket

माना जाता है कि 13वीं सदी में चीन में पहली बार रॉकेट का प्रयोग हुआ।

बाद में अन्य कई देशों में, यथा – मंगोलिया, ब्रिटेन, अमेरिका, भारत, रूस आदि, में रॉकेट के विकास के कार्य आरम्भ हुआ।

सन् 1232 में चीनियों ने मंगोलों के साथ युद्ध में प्रथम बार रॉकेट का उपयोग किया।

जब मंगोलों, चंगेज खां और ओगेडी खां ने रूस के कुछ भागों, पूर्वी तथा मध्य यूरोप के कुछ क्षेत्रों पर विजय प्राप्त करने के लिए रॉकेटों का प्रयोग किया तब यूरोपीय लोगों को पहली बार रॉकेट तकनीकी की जानकारी मिली।

सन् 1241 में यूरोप में भी रॉकेट का आविर्भाव हो गया।

मैसूर के हैदरअली और टीपू सुल्तान ने 1780 में पहली बार लौह-आवरण एवं धातु सिलेंडर रॉकेट आग्नेयास्त्र का निर्माण किया।

टीपू सुल्तान की सेना के ‘रॉकेट ब्रिगेड’ ने ब्रिटिश ईस्ट इण्डिया कम्पनी के विरुद्ध युद्ध में भारी मात्रा में धातु सिलेंडर रॉकेटों को प्रयोग किया।

श्रीरंगपुर के युद्ध में अस्त्र के रूप में रॉकेट के प्रयोग के कारण ही अंग्रेजों के कदम उखड़ गये।

भारत के मैसूर रॉकेटों से प्रभावित होकर विलियम कांग्रीव ने ‘कांग्रीव रॉकेट’ का विकास किया।

सन् 1844 में विलियम हेल द्वारा रॉकेट डिजाइन में किये गये परिमार्जन से रॉकेट का प्रणोद एक दैशिक हो गया और रॉकेट अपनी यात्रा अक्ष रेखा के इर्द-गिर्द प्रचक्रित होने लगा।

सन् 1903 में हाई स्कूल के गणित के अध्यापक कॉस्टैंटिन सिवोल्कोवोस्की ने रॉकेट समीकरण दिया जिसका नाम भी उन्हीं पर रखा गया।

सिवोल्कोवोस्की ने रॉकेट ईंधन के रूप में द्रव हाइड्रोजन और द्रव ऑक्सीजन की सिफारिश की इष्टतम निर्गम गति की गणना की।

सन् 1912 में रॉबर्ट एसनाल्ट पेल्टियर ने अपने एक व्याख्यान में स्वतन्त्र तरीके से सिवोल्कोवोस्की की रॉकेट समीकरण की गणना की और चन्द्रमा एवं अन्य ग्रहों की राउंड ट्रिप यात्रा के लिए आवश्यक ऊर्जा की भी गणना की।

सन् 1912 में ही गोडार्ड ने रॉकेटों का गम्भीर विश्लेषण किया और पारम्परिक ठोस ईंधन रॉकेटों में सुधार लाया। उन्हों ने यह भी सिद्ध किया कि रॉकेट निर्वात में भी काम करता है।

सन् 1924 में सिवोल्कोवोस्की ने बहु-स्टेज रॉकेटों विषय से सम्बन्धित ‘कॉस्मिक रॉकेट ट्रेंस’ नामक पुस्तक लिखी।

गोडार्ड द्वारा सुपुरसोनिक (डे लेवल) नोजल को द्रव ईंधनयुक्त रॉकेट इंजन दहन कक्ष से संलग्न कर दिये जाने से वर्तमान रॉकेट का जन्म हुआ।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Important General Knowledge in Hindi – 4

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

gk in Hindi

आपके सामान्य ज्ञान (General Knowledge in Hindi) बढ़ाने के लिए Gyan Sagar gk में प्रस्तुत है महत्वपूर्ण इतिहास सामान्य ज्ञान (History gk in Hindi)!

दिलवाड़ा के प्रसिद्ध जैन मन्दिरों को सोलंकी शासकों ने बनवाया था।

फतेहपुर सीकरी में अकबर द्वारा बनवाये गये उपासना-भवन को इबादत खाना के नाम से जाना जाता है।

खजुराहो के कंदरिया महादेव मन्दिर को चंदेल शासकों ने बनवाया था।

खजुराहो में विष्णु के चतुर्भुज मन्दिर का निर्माण चंदेल शासक यशोवर्मन ने करवाया था।

तंजावुर के बृहदेश्वर मन्दिर को चोल शासकों ने बनवाया था।

अजन्ता की चित्रकला गुप्त काल की है।

एलोरा के प्रसिद्ध कैलाश मन्दिर का निर्माण राष्ट्रकूट शासकों द्वारा करवाया गया था।

जहांगीर महल आगरा में स्थित है।

आगरा में एतमाद-उद-दौला के मकबरे को नूरजहां ने बनवाया था।

फतेहपुर सीकरी का निर्माण अकबर ने करवाया था।

दिलवाड़ा जैन मन्दिर माउंट आबू में स्थित है।

चित्तौड़ के विजय स्तम्भ का निर्माण राणा कुम्भा ने करवाया था।

करांची के मुक्तेश्वर मन्दिर तथा बैकुंठ पेरुमल मन्दिर को पल्लव वंश के शासक नंदिवर्मन ने बनवाया था।

पेट्रोनस ट्विन टॉवर क्वालालम्पुर में स्थित है।

वेलिंग वाल (Wailing Wall) जेरुशलेम में स्थित है।

अंग्रेजों ने हिन्दुओं तथा मुसलमानों को विभाजित करने के उद्देश्य से 1905 में बंगाल का विभाजन कर दिया।

भारतीय परिषद् अधिनियम, 1909 को ‘मिंटो-मार्ले सुधार’ कहा जाता है।

शाहजहां के शासनकाल में स्थापत्य कला अपनी चरम सीमा पर पहुँच गई थी।

पारसनाथ छोटा नागपुर की सबसे ऊँची चोटी है।

नग्न चट्टान पर भी पारिस्थितिक अनुक्रम को प्रारम्भ करने में सक्षम लाइकेन वास्तव में शैवाल और कवक के सहजीवी साचर्य हैं।

भूगोलवेत्ता हंटिंगटन ने मानव जीवन में जलवायु की प्रमुख भूमिका पर जोर दिया है।

भारत में बचत का अधिकांश भाग घरेलू क्षेत्र से प्राप्त होता है।

मानव शरीर में औसतन ऑक्सीजन का तत्व 65 प्रतिशत होता है।

सनई अनुसन्धान केन्द्र के कृषि वैज्ञानिकों ने लिनेन का कपड़ा तैयार करने के लिए टियरा (JRF-2) नामक देश की पहली फ्लैक्स विकसित किया है, जिसका पेटेंट कृषि मन्त्रालय (GOII) से करवा लिया गया है।

विशिष्ट समय के दौरान विशिष्ट लक्ष्य श्रोता के साथ विशिष्ट संप्रेषण कार्य को विज्ञापन उद्देश्य कहा जाता है।

‘माई लाइफ एण्ड ब्यूटीफुल गेम’ नामक पुस्तक के लेखक प्रसिद्ध फुटबाल खिलाड़ी पेले हैं।

‘टोनी मॉरिसन’ (1993) प्रथम अश्वेत महिला हैं जिन्हें साहित्य में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

History gk in Hindi – 8

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

History GK in Hindi

History gk in Hindi

इतिहास के पन्नों से (History General Knowledge in Hindi)

अमेरिका के स्वतन्त्रता की लड़ाई में ब्रिटेन की हार हुई जिसके बाद इंग्लैण्ड में ईस्ट इण्डिया कम्पनी की नीतियों की आलोचना हुई।

ब्रिटिश सरकार ने तय किया कि ईस्ट इण्डिया कम्पनी को भारतीय शासकों की आपसी लड़ाई में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए।

ब्रिटिश संसद ने एक कानून बनाकर भारत के ब्रिटिश क्षेत्रों के शासन की एक व्यवस्था दी जिसे “हस्तक्षेप न करने की नीति” कहा जाता है।

अंग्रेजों ने मराठों, रुहेलों, नेपाल के गुरखाओं, बर्मी राज्य और पंजाब पर अफगान के आक्रमण के खतरे जैसे मामलों में हस्तक्षेप नहीं किया किन्तु कार्नवालिस ने मैसूर के मामले में हस्तक्षेप करना जारी रखा।

दक्षिण भारत में अपनी शक्ति के विस्तार के मार्ग में अंग्रेज टीपू सुल्तान को सबसे बड़ा खतरा मानते थे यही कारण है कि मैसूर के मामले में अंग्रेजों ने “हस्तक्षेप न करने की नीति” को ताक पर रख दिया।

टीपू सुल्तान ने कुर्ग और त्रावणकोर राज्यों, जिनकी अंग्रेजों के साथ मित्रता थी, पर आक्रमण किया तो अंग्रेज टीपू सुल्तान के विरुद्ध खड़े हो गये जिसके परिणामस्वरूप तीसरा अंग्रेज-मैसूर युद्ध हुआ जिसमें टीपू सुल्तान की हार हुई और उसे अपने राज्य अनेक इलाके अंग्रेजों को देने पड़े।

अंग्रेज “हस्तक्षेप न करने की नीति” पर तभी तक कायम रहे जब तक कि उनका हित सधता रहा।

सन् 1789 में वेलेजली गवर्नर जनरल बना। उसने फिर से राज्य विस्तार करना आरम्भ कर दिया।

वह नये इलाकों पर कब्जा करने लगा और साथ ही एक भारतीय शासक को दूसरे भारतीय शास्क के विरुद्ध सैनिक सहायता देकर अपना प्रभाव बढ़ाने की वारेन हेस्टिंग्ज की नीति को भी अपनाये रखा।

कई भारतीय शासकों ने विवश होकर अंग्रेजों की “सहायक सन्धि” स्वीकार कर ली।

“सहायक सन्धि” अपनाने वाले भारतीय शासक को अपने क्षेत्र में ब्रिटिश फौज रखनी पड़ती थी और उसका खर्च भी देना पड़ता था।

उन्हें अपने दरबार में एक अंग्रेज अफसर को ‘रेजिडेंट’ के रूप में रखना पड़ता था।

दिखाई यही देता था कि यह व्यवस्था भारतीय शासकों को सुरक्षा प्रदान करती है किन्तु वास्तव में यह उनकी स्वतन्त्रता को समाप्त करती थी।

“सहायक सन्धि” स्वीकार करने वाला पहला शासक निजाम था और दूसरा शासक अवध का नवाब।

टीपू सुल्तान ने कभी भी “सहायक सन्धि” को नहीं अपनाया।

सन् 1799 टीपू सुल्तान और अंग्रेजों मध्य युद्ध हुआ जिसमें टीपू सुल्तान मारा गया। इस तरह से सम्पूर्ण जीवन ब्रिटिश शक्ति का विरोध करने वाले टीपू सुल्तान का अन्त हो गया।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail