Archives for Health

Health Tips in Hindi 2

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

मनुष्य के लिए स्वास्थ्य (Health) ईश्वर की सबसे बड़ी देन है।

आपको स्वस्थ बनाये रखने के लिए प्रस्तुत है Health Tips in Hindi

हल्दी और स्वास्थ्य (Turmeric and Health)

हल्दी (turmeric) एक बहुत ही गुणकारी औषधि हैं। हल्दी के प्रयोग से त्वचा चमकदार बनती है तथा झुर्रियाँ दूर होती हैं। आप अपनी सुन्दरता निखारने के लिए घर में ही हल्दी से बने फेस पैक, उबटन आदि का प्रयोग करके बाजार से खरीदे जाने वाली सौन्दर्य सामग्रियों के पैसे बचा सकते हैं।

हल्दी आपके शरीर के लिए एक प्रभावी पोषण पूरक का कार्य कर सकता है। अनेक उच्च गुणवत्ता वाले शोधकार्यों तथा बताते हैं कि आपके शरीर और मस्तिष्क के लिए हल्दी अत्यन्त लाभप्रद है। भारत में हजारों वर्षों से हल्दी का इस्तेमाल मसाला के साथ ही औषधीय जड़ी बूटी के रूप में होता चला आ रहा है।

हल्दी में औषधीय गुणों वाले अनेक यौगिक पाये जाते हैं जिन्हें कर्क्यूमिनोइड्स (curcuminoids) कहा जाता है। कर्क्यूमिनोइड्स (curcuminoids) में सबसे महत्वपूर्ण कर्क्यूमिन (curcumin) है। कर्क्यूमिन (curcumin) एक शक्तिशाली एंटी- इन्फ्लैमटोरी (anti-inflammatory) है, अर्थात यह उत्तेजना के प्रभाव को दूर करता है। साथ ही यह एक सशक्त एंटीऑक्सीडेंट भी है।

हल्दी के घरेलू प्रयोग

  • बेसन में थोड़ा सा हल्दी और तेल डालकर इतना पानी मिलायें कि उबटन तैयार हो जाए। इस उबटन का पूरे शरीर की त्वचा पर लेप करें। 10 मिनट बाद नहा लें। शरीर का रंग दमकने लगेगा। सप्ताह में एक या दो बार इस उबटन का प्रयोग अवश्य करें।
  • घिसे हुए चन्दन में आधी छोटी चम्मच हल्दी और थोड़ा सा दूध डालकर पेस्ट बनायें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर 2 से 3 मिनट तक हल्के हाथ से मालिश करें। फिर सूखने के लिए छोड़ दें। 10 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें। चेहरे की त्वचा मुलायम और चमकदार हो जायेगी तथा झुर्रियाँ दूर होंगी।
  • गेहूँ के आटे में थोड़ी सी हल्दी, कुछ बूंद शहद और दूध डालकर पेस्ट बना लें। पेस्ट को चेहरे पर अच्छी तरह से लगाकर सूखने दें। 10 मिनट बाद साबुन से धो लें। सन टैनिंग गायब हो जायेगी।
Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Aloe Vera – A best Gift of God

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

मनुष्य के स्वास्थ्य (Health) के लिए एलो वेरा (Aloe Vera) ईश्वर की सबसे बड़ी देन है।

घृतकुमारी याने कि एलो वेरा (Aloe Vera) परिचय

aloe-vera

घृतकुमारी (Aloe Vera) एक गूदेदार पौधा होता है।

घृतकुमारी (Aloe Vera) की मोटी मोटी पत्तियों को काटने से एक प्रकार का गाढ़ा रस निकलता है, जिसे जेल कहा जा सकता है।

घृतकुमारी (Aloe Vera) का अंग्रेजी नाम एलो वेरा (Aloe Vera) है।

घृतकुमारी (Aloe Vera), को घीक्वार या ग्वारपाठा भी कहा जाता है।

घृतकुमारी (Aloe Vera) का आयुर्वेद में सर्वाधिक गुणगाण किया गया है।

आयुर्वेद ने घृतकुमारी (Aloe Vera) को एक चमत्कारी वनस्पति माना है।

अयुर्वेद ने घृतकुमारी (Aloe Vera) को संजीवनी की संज्ञा प्रदान की है क्योंकि यह अनेक रोगों जैसे कि मधुमेह, बवासीर, पेट की खराबी तथा अल्सर, जोड़ों का दर्द आदि के उपचार में अत्यन्त लाभप्रद है।

एलो वेरा जूस के फायदे (Benefits Of Aloe Vera Juice)

एलो वेरा (Aloe Vera) जेल आयरन, कैल्सियम, सोडियम, पोटेशियम, क्रोमियम, मैग्निशियम, मैंगनीज, तांबा और जस्ता जैसे खनिज लवणों से परिपूर्ण होता है।

इसमें विटामिन ए, बी, सी, डी के साथ ही कई तरह के मिनरल्स भी पाए जाते हैं।

घृतकुमारी अर्थात एलो वेरा (Aloe Vera) एक अद्वितीय चमत्कारिक औषधीय वनस्पति हैं और इस का रस याने कि एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) अनेक रोगों के लिए अत्यन्त लाभप्रद होता है।

वास्तव में एलो वेरा (Aloe Vera) विटामिन ‌और मिनरल का बहुत अच्छा स्रोत है।

इसमें कैल्शिय (Calcium), सोडियम (Sodium), आयरन (Iron), पोटेशियम (Potassium), मैंगनीज (Manganese), जिंक (Zinc), फोलिक एसिड (Folic acid), विटामिन (Vitamins) A, B1, B2, B6, C, E तथा एमिनो एसिड (Amino acids) पर्याप्त मात्रा में पाये जाते हैं।

यहाँ पर हम आपको बता रहे हैं एलो वेरा जूस के फायदे (Benefits Of Aloe Vera Juice)

एक अच्छा पाचकः एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) में प्रचुर मात्रा में पाचक तत्व विद्यमान होते हैं। अपने high anti-inflammatory गुणों के कारण यह अंतड़ी के रोगो में बहुत फायदा पहुँचाता है। एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) के नियमित सेवन से कब्ज दूर होता है।

Rheumatoid Arthritis Treatment: मात्र पन्द्रह दिनों तक एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) करने पर ही Rheumatoid Arthritis रोग दूर होने लक्षण दिखाई देने लगते हैं।

जोड़ों तथा मांसपेशियों का दर्द (Muscle and Joint Pains): एलो वेरा (Aloe Vera) का ताजा जेल दर्द के स्थान पर लगाने पर त्वरित फायदा मिलता है।

Cholesterol level में कमी: एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) के नियमित सेवन से Cholesterol level में कमी आती है।

वजन घटाना (Weight Loss): एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) वजन घटा कर मोटापा दूर करता है।

मधुमेह (Diabetes): एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) का नियमित सेवन ब्लड शुगर लेवल में कमी लाता है।

मजबूत मसूढ़ेः मसूढ़ों पर एलो वेरा (Aloe Vera) जेल की मालिश से मसूढ़े मजबूत होते हैं।

साधारण सर्दी बुखारः सर्दी, कफ जमना, नाक बंद हो जाना, फ्लू, बुखार आदि में एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) फायदा करता है।

चेहरे और त्वचा की कान्तिः एलो वेरा जूस (Aloe Vera Juice) के नियमित सेवन से चेहरा दमकने लगता है तथा त्वचा में कान्ति आती है। झुर्रिया भी दूर होने लगती हैं।

ऑफ्टर शेव लोशनः एलो वेरा (Aloe Vera) का जेल एक आदर्श ऑफ्टर शेव लोशन का काम करता है।

कील मुँहासेः कील मुहाँसों पर एलो वेरा (Aloe Vera) का जेल लगाएँ, फायदा मिलेगा।

रूसी Dandruff: स्नान करने से पहले बालों की जड़ों में एलो वेरा (Aloe Vera) जेल की मालिश से रूसी दूर होती है। यह हेयर कंडीशनर का भी काम करता है।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Health Tips in Hindi 1

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

मनुष्य के लिए स्वास्थ्य (Health) ईश्वर की सबसे बड़ी देन है।

Health tips in Hindi

आपको स्वस्थ बनाये रखने के लिए प्रस्तुत है Health Tips in Hindi

आँखों के नीचे का काला धब्बा दूर करना (Remove Black Circles under Eye)

  • दूध में भीगे हुए बादाम को चन्दन की तरह, दूध की बूंदें डालकर, महीन घिसे।
  • इस घिसे हुए चन्दन के साथ मिलाकर आँखों के नीचे काले धब्बों पर लेप करें।
  • 10-15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें। प्रतिदिन नियमित रूप से लेप करने पर काले धब्बे दूर हो जाते हैं।

चेहरे का तैलीयपन दूर करना

  • खीरे का रस एक प्राकृतिक एस्ट्रेंजेंट है।
  • खीरे को स्लाइस में काट कर चेहरे पर मलें ताकि उसका रस चेहरे पर पूरी तरह से लग जाये।
  • मात्र 1-2 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें। चेहरे का तैलीयपन दूर हो जायेगा।

चेहरे की झुर्रियाँ दूर करना

  • पोदीने के रस और गुलाजल को मिलाकर घिसे हुए चन्दन के साथ एक पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को चेहरे पर लेप करके कुछ देर सूखने दें। फिर ठंडे पानी से धो लें।
  • प्रतिदिन नियमित रूप से लेप करने पर चेहरे पर की झुर्रियाँ खत्म हो जाएँगी।
  • शहद में नीबू का रस मिलाकर चेहरे पर लेप करने से भी चेहरे की झुर्रियाँ दूर होती हैं।

चेहरे की त्वचा में कसावट लाना

  • गले सहित चेहरे पर शहद का लेप करें।
  • थोड़ा सा सूखकर चिपचिपा हो जाने पर लेप वाली पूरी त्वचा पर उँगलियों को चलाते हुए हल्का मालिश करें।
  • पूरी तरह से सूख जाने पर गुनगुने पानी से धो लें। आपको खुद महसूस होगा कि त्वचा कसी हुई हो रही है।

चेहरे के दाग धब्बे दूर करना

  • शहद में तुलसी के पत्तों का रस मिलाकर चेहरे पर मसाज करें।
  • नियमित रूप से ऐसा करने पर कुछ ही दिनों में चेहरे के दाग धब्बे दूर हो जाते हैं और चेहरे की चमक भी बढ़ जाती है।
Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail