Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

हिन्दी में सामान्य ज्ञान (Samanya Gyan in Hindi)

पेश है हिन्दी में सामान्य ज्ञान (General Knowledge in Hindi) से सम्बन्धित जानकारी।

यहाँ पर हम शुक्र ग्रह (Venus) के सम्बन्ध में जानकारी दे रहे हैं। यह जानकारी भूगोल सामान्य ज्ञान (Geography General Knowledge in Hindi) के लिए महत्वपूर्ण है।

General Knowledge in Hindi

शुक्र आकाश में दिखाई देने वाले चमकीले पिण्डों में दूसरा सबसे बड़ा प्राकृतिक पिण्ड है। पहला नंबर चन्द्रमा का है।

शुक्र का आभासी परिमाण -3.8 से -4.6 तक का होता है जो कि छाया बनाने के लिए पर्याप्त उज्ज्वल है।

शुक्र सौरमण्डल का दूसरा ग्रह है।

शुक्र की सूर्य से दूरी लगभग 10 करोड़ 82 लाख कि.मी. है।

शुक्र ग्रह का कोई भी उपग्रह नहीं है।

शुक्र का एक दिन उसके एक साल से बड़ा होता है क्योंकि उसे सूर्य का एक चक्कर लगाने में पृथ्वी के लगभग 224.7 दिन लगते हैं जबकि अपनी धुरी के सापेक्ष एक चक्कर लगाने में पृथ्वी के 243 दिन लगता है।

वैज्ञानिकों को मानना है कि खरबों वर्ष पहले शुक्र में प्रचुर में पानी उपलब्ध था, याने कि वहाँ पर पृथ्वी के जैसे ही महासागर थे।

शुक्र सौरमण्डल का सबसे गर्म ग्रह है। शुक्र के वायुमण्डल में अत्यधिक मात्रा में उपलब्ध कार्बन डाईऑक्साइड कारण बहुत अधिक ग्रीनहाउस प्रभाव उत्पन्न होता है जिसके कारण शुक्र का सूर्य की ओर वाले भाग का तापमान 462>0C तक पहुँच जाता है।

शुक्र के दिन और रात के तापमान में विशेष अन्तर नहीं होता।

शुक्र का वायुमण्डलीय दबाव पृथ्वी के वायुमण्डलीय दबाव से 92 गुना अधिक है।

शुक्र ग्रह पर सल्फ्युरिक एसिड के बादल छाये रहते हैं जो उसकी सतह को पूरी तरह से ढँके रहते हैं। इसी कारण से शुक्र ग्रह की सतह को देखा नहीं जा सकता।
शुक्र ग्रह का चुम्बकीय क्षेत्र बहुत कमजोर है।

शुक्र पृथ्वी का निकटतम ग्रह है।

शुक्र को पृथ्वी की बहन कहा जाता है।

शुक्र ग्रह ‘सुबह का तारा’ एवं ‘साँझ का तारा’ के नाम से भी जाना जाता है।

शुक्र ग्रह ही सौरमण्डल का एकमात्र ग्रह है जिसका नामकरण एक देवी के नाम पर किया गया है।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail