Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

आधुनिक भारत (Modern India) के विषय में महत्वपूर्ण ऐतिहासिक तथ्यों (History Facts) को जाने बिना हमारा इतिहास सामान्य ज्ञान (History gk in Hindi) अधूरा है।

अतः प्रस्तुत है आधुनिक भारत (Modern India) के विषय में महत्वपूर्ण ऐतिहासिक तथ्य (History Facts)।

सन् 1757 से 1947 तक की अवधि को आधुनिक भारत का इतिहास काल माना जाता है।
सन् 1707 में मुगल बादशाह औरंगजेब की मृत्यु के पश्चात से ही मुगल साम्राज्य का पतन होना आरम्भ हो गया।
औरंगजेब का साम्राज्य 20 प्रान्तों में बँटा हुआ था।
मुगल सामन्तों के चार गुट थे – तूरानी, ईरानी, अफगानी और हिन्दुस्तानी।
ईस्ट इण्डिया कम्पनी को इंग्लैड की महारानी एलिजाबेथ द्वारा 15 वर्षों के लिए व्यापार करने का अधिकार पत्र मिला था।
जहांगीर के दरबार में सर टॉमस रो सन् 1615 से 1618 तक राजदूत रहा था।
अंग्रेजों के पहले जहाजी बेड़ा ने भारत में सन् 1608 में प्रवेश किया।
ईस्ट इण्डिया कम्पनी का भारत आने का मूल उद्देश्य व्यापार करना था।
अंग्रेजों और फ्रांसीसियों के बीच कर्नाटक का पहला युद्ध सन् 1744 में हुआ जिसमें अंग्रेजों की जीत हुई।
कर्नाटक का दूसरा युद्ध सन् 1748 में शुरू हुआ।
यूरोप में सप्तवर्षीय युद्ध सन् 1756 में आरम्भ हुआ।
अंग्रेजों को भारत में एकछत्र राज्य करने का अवसर प्लासी के युद्ध जीतने पर प्राप्त हुआ।
काल कोठरी की घटना की घटना में 146 लोगों को बन्द किया गया था।
इतिहासकार ताराचंद के अनुसार प्लासी के युद्ध ने सत्ता का हस्तान्तरण कर दिया।
लॉर्ड क्लाइव द्वैध शासन प्रणाली का जन्मदाता था।
हैदरअली का जन्म सन् 1721 में बुड़ीकोटा के एक साधारण परिवार में हुआ था।
अंग्रेजों और हैदरअली के बीच द्वितीय आंग्ल-मैसूर युद्ध का आरम्भ सन् 1780 में हुआ।
पुरन्दर की संधि मराठा मण्डल और कर्नल अप्टन के बीच हुई।
ब्रिटिश पार्लियामेंट के द्वारा सन् 1773 में रेगुलेटिंग एक्ट पारित किया गया।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail