जयशंकर प्रसाद (Jayshankar Prasad)प्रस्तुत है श्री जयशंकर प्रसाद (Jayshankar Prasad) की सुप्रसिद्ध रचना अरुण यह मधुमय देश हमारा (Arun Yah Madhumay Desh Hamara) -अरुण यह मधुमय देश हमारा। जहाँ पहुँच अनजान क्षितिज को मिलता एक सहारा॥ सरल तामरस गर्भ विभा पर, नाच रही तरुशिखा मनोहर। छिटका जीवन हरियाली ...