प्रस्तुत है जयशंकर 'प्रसाद' (Jaishankar Prasad) की प्रसिद्ध रचना भारत महिमा (Bharat Mahima)भारत महिमा (Bharat Mahima) जयशंकर 'प्रसाद' (Jaishankar Prasad)हिमालय के आँगन में उसे, प्रथम किरणों का दे उपहार। उषा ने हँस अभिनंदन किया, और पहनाया हीरक-हार॥ जगे हम, लगे जगाने विश्व, लोक में फैला फिर आलोक। व्योम-तुम पुँज ...