मोहन अपने मित्र सोहन से कहता है कि आज तुम मुझे जितना रुपया दोगे, कल मैं तुम्हें उसका दोगुना रुपया लौटा दूँगा, ऐसा मैं अगले चार दिनों तक करूँगा।सोहन ने पहले दिन मोहन को कुछ रुपये दिये दूसरे दिन मोहन ने सोहन द्वारा दिये गए ...